25.2 C
New York
Sunday, July 21, 2024

Buy now

National Savings Certificate : 100 रुपये से भी होता है निवेश,ऐसे बनेंगे 6.9 लाख

National Savings Certificate  : अपनी गाढ़ी कमाई को सुरक्षित रखने का बेहतर और सुरक्षि‍त विकल्‍प है नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट।

टैक्‍स सेविंग का लाभ और बचत को सुरक्षि‍त बढ़त में तब्‍दील होते देखने की चाह रखने वाले निवेशकों के लिए NSC बेहद उपयोगी स्‍कीम है। Post Office की इस स्‍कीम मैच्‍योरिटी 5 साल में होती है।

National Savings Certificate स्कीम में न्‍यूनतम 100 रुपये का सर्टिफिकेट खरीदकर निवेश किया जा सकता है। हालांकि, निवेश की अधिकतम कोई सीमा नहीं है। लेकिन टैक्‍स छूट का लाभ महज 1.5 लाख रुपये के निवेश पर ही मिलता है।

ये छूट इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80C के तहत दिया जाता है। NSC के तहत वर्तमान में 6.8 प्रतिशत का सालाना रिटर्न मिल रहा है। बता दें कि वित्त मंत्रालय से जारी दिशानिर्देशों के अनुसार स्‍कीम की ब्याज दर में समय-समय पर बदलाव होता है।

यह भी पढें- Gold ETF क्या है? पहले जानें फि‍र निवेश कर पाएं शानदार रिटर्न

National Savings Certificate  में 5 तरीके से निवेश

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट अभी 100, 500, 1000, 5000 और 10,000 रुपये के मूल्य में बिक्री के लिए NSC उपलब्‍ध हैं। अलग अलग मूल्‍य के मनचाही संख्‍या में सर्टिफिकेट खरीदकर स्‍कीम में लगाया जा सकता है।

Benefits of National Savings Certificate in Hindi : फायदा कितना ?

NSC में 10 लाख के निवेश पर 5 साल बाद 6.9  लाख रुपये मिलेंगे। इस तरह कुल एक लाख 90 हजार रुपये ब्‍याज के रूप में मिलेंगे।

NSC में वर्तमान ब्‍याज दर 6.8 प्रतिशत है। इसी प्रकार 10 लाख के इन्‍वेस्‍टमेंट पर निवेशक को मैच्‍योरिटी पर 13.80 लाख मिलेंगे। जबकि 15 लाख के सर्टिफ‍िकेट पर 20.85 लाख रुपये का मैच्‍यो‍रिटी अमाउंट मिलेगा।

यह भी पढ़ें-वित्तीय योजना क्या है,कम सैलरी में कैसे करें फाइनेंशियल प्लानिंग ?

Invested money       Maturity Amount

1 Lac                                1.38Lac

2 Lac                               2.76 Lac

3 Lac                               4.14 Lac

4 Lac                               5.52 Lac

5 Lac                               6.9 Lac

10 Lac                             13.80 Lac

15 Lac                             20.85 Lac

National Savings Certificate की अन्‍य विशेषताएं

1– National Savings Certificate स्‍कीम के निवेश पर ब्याज सालाना आधार पर जमा होता है, लेकिन भुगतान मेच्योरिटी पर ही किया जाता है। हालांकि इसमें TDS की कटौती नहीं की जाती।

2–NSC को सभी Bank और Non-Banking Financial Company (NBFC)  लोन के लिए security के रूप में स्वीकार करते हैं। यानी कर्ज लेते वक्‍त नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट को बंधक भी रखा जा सकता है।

3– स्‍कीम में निवेशक को अपने परिवार के किसी भी सदस्य को नॉमिनी बनाने की सुविधा मिलती है।

एनएससी की इतनी खूबियां और लाभ बताने के बाद हम आपको इस बारे में नीचे विस्‍तार में बता रहे हैं…

एनएससी के बारे में आधिकारिक जानकारी के यहां क्लिक करें

National Savings Certificate kya hai :  NSC क्‍या है ?

National Savings Certificate यानी NSC केन्‍द्र सरकार का एक इनेशिएटिव है। ये ऐसी फि‍क्‍स्‍ड

इनकम इन्‍वेस्‍टमेंट स्‍कीम है जिसे देशभर में मौजूद किसी भी पोस्‍ट ऑफ‍िस से लिया जा सकता है। छोटे और मध्‍यम स्‍तर के निवेशकों के लिए सेविंग बॉन्‍ड आधारित यह स्‍कीम काफी फायदेमंद है।

NSC me kise nivesh karna chahiye ?

NSC स्‍कीम गारंटीड इंटरेस्‍ट देने के अलावा निवेशित धन पर संपूर्ण सुरक्षा प्रदान करती है। बता दें कि पीपीएफ और पोस्‍ट आफ‍िस एफडी की तरह ही NSC स्‍कीम भी निश्चित आय का सुरक्षित साधन है।

हालांकि, NSC महंगाई से निपटने में कारगर रिटर्न तो नहीं देती, लेकिन जोखिम न चाहने वाले भारतीयों नागरिकों के लिए बेस्‍ट स्‍कीम है।

यह भी पढ़ें- Liquid funds kya hai: इनमें निवेश Bank FD से दिलाएं ज्यादा रिटर्न

कौन निवेश नहीं कर सकता ?

National Savings Certificate स्‍कीम केवल भारतीय नागरिकों के लिए है। इस स्‍कीम में Hindu Undivided Families (HUFs) यानी हिन्‍दू अविभाजित परिवार, ट्रस्‍ट, प्राइवेट, पब्लिक लिमिटेड कंपनीज और एनआरआई शामिल नहीं हो सकते।

हालांकि, अगर किसी निवासी भारतीय ने NSC खरीदा है और maturity से पहले NRI हो जाता है तो भी उसे इसका फायदा मिलता है।

कैसे और कहां से खरीदें एनएससी ?

National Savings Certificate पहले प्री प्रिंटेड फॉर्म में बैंक और पोस्‍ट ऑफ‍िसों से मिला करते थे। हालांकि 2016 से इसका यह स्‍वरूप बंद कर दिया गया। अब NSC सर्टिफ‍िकेट इलेक्‍ट्रानिक मोड या पासबुक मोड में जारी किए जाते हैं। बस केवाई होना जरूरी है।

देश के सभी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों से National Savings Certificate खरीदे जा सकते हैं। प्राइवेट बैंकों की बात करें तो ICICI, HDFC & Axis Bank भी NSC इश्‍यू करते हैं।

अगर आपका खाता बैंक या पोस्‍ट ऑफ‍िस में हैं तो ई–मोड में NSC खरीद कर सकते हैं। बैंक के खाताधारक नेट बैंकिंग से भी NSC खरीद सकते हैं।

यह भी पढ़ें-2020/10/17 Financial planning kaise kare : फाइनेंशियल प्लानिंग समझना जरूरी

[wptb id=1702]

कौन खरीद सकता है National Savings Certificate

NSC कोई भी वयस्‍क, सिंगल अथवा जाइंट तरीके से और नाबालिग की ओर से खरीदी जा सकती है।

Single holder type सर्टिफिकेट : इसमें एक व्यक्ति खुद या minor के नाम पर सर्टिफिकेट खरीद सकता है।

Joint A type : इसमें, दो निवेशक मिलकर एक एनएससी खरीद सकते हैं। ऐसी खरीद पर दोनों को maturity पर मिलने वाली धनराशि बराबर हिस्सों में मिलती है।

Joint B type : इसे भी दो लोग मिलकर खरीदते हैं, लेकिन maturity पर मिलने वाली धनराशि दोनों में से केवल एक धारक अथवा निवेशक को मिलती है।

बता दें कि एनएससी पहले 5 साल और 10 साल की मैच्‍योरिटी अवधि के साथ उपलब्‍ध थी। लेकिन दिसंबर 2015 के बाद से 10 साल वाली एनएसएसी को खत्‍म कर दिया गया। तब से सिर्फ 5 साल वाली एनएससी ही बिक्री के उपलब्‍ध हैं।

अगर आपको ये जानकारी पसंद आई है तो इसे शेयर कर कमेंट करें। अगर आपका कोई सवाल हो तो आप हमसे सीधे Whatsapp chat करके भी जानकारी ले सकते हैं।

यह भी पढें- What is SIP and its benefits : जानें, एसआईपी और इसके फायदे

 

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[td_block_social_counter facebook="tagdiv" twitter="tagdivofficial" youtube="tagdiv" style="style8 td-social-boxed td-social-font-icons" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjM4IiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMzAiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" custom_title="Stay Connected" block_template_id="td_block_template_8" f_header_font_family="712" f_header_font_transform="uppercase" f_header_font_weight="500" f_header_font_size="17" border_color="#dd3333"]

Latest Articles

Translate »