28.4 C
New York
Saturday, July 20, 2024

Buy now

NJ MARS में इन्‍वेस्‍टमेंट बोले तो रिस्क में सबसे कम, रिटर्न में सबसे आगे

NJ MARS : निवेश का बेहद सामान्‍य नियम ये है कि इन्‍वेस्‍टमेंट में हाई रिस्‍क होने पर हाई रिटर्न और कम रिस्‍क लेने पर निवेशक को कम रिटर्न मिलता है।

यही वजह है कि शेयर मार्केट में ज्‍यादा जोखिम होने के कारण ऊंचे रिटर्न की संभावना ज्‍यादा रहती है।

वहीं, बैंक के फि‍क्‍स्ड डिपाजिट (एफडी) और रेकरिंग डिपाजिट (आरडी) जैसे सुरक्षित साधनों में निवेश करने पर मामूली रिटर्न ही मिलता है।

दूसरे शब्‍दों में, जहां गारंटीड रिटर्न या पैसों की सुरक्षा दिए जाने का आश्‍वासन दिया जाता है, वहां निवेश पर मिलने वाले रिटर्न की मात्रा कम हो जाती है।

अब सवाल ये उठता है कि क्‍या म्‍युचुअल फंड निवेश का कोई ऐसा जरिया उपलब्‍ध है…

  • जहां म्‍युचुअल फंड स्‍कीम चुनने में माथापच्‍ची ना करनी पड़े।
  • जहां कम से कम रिस्‍क में ज्‍यादा रिटर्न मिलता हो और अधिक रिटर्न मिलने की संभावना भी बहुत ज्‍यादा हो।
  • शेयर मार्केट में भारी गिरावट के वक्‍त आपके निवेश में मामूली गिरावट दिखे, लेकिन मार्केट के पॉजिटिव वक्‍त में ज्‍यादा रिटर्न मिले।
  • जहां निवेशक को निवेश का गुणा–गणित ना करना/ समझना पड़े।
  • निवेश पर हमेशा नजर ना रखनी पड़े।
  • जब चाहे पैसा निकाल सके यानी लिक्विडिटी बनी रहे।

तो आपके इन स‍भी सवालों का जवाब ‘हां’ में हैं।

ऊपर बताई गई सभी तरह की निवेश जरूरतों को NJ INDIA INVEST LTD. कई सालों से बखूबी पूरा कर रहा है। NJ के जबरदस्‍त विकल्‍प MARS (Mutual Fund Automated Portfolio Rebalancing System) में म्‍युचुअल फंड की बेहतरीन स्‍कीम्‍स में निवेश कर अच्‍छा रिटर्न कमाया जा रहा है।

ये भी पढ़ें- Mutual fund kya hain | What is mutual fund in hindi

आइए, मार्स (MARS) के बारे में डिटेल में जानते हैं-

What is MARS or NJ MARS in Hindi : मार्स क्‍या है?

NJ India Invest Ltd की रिसर्च टीम की ओर से विकसित किए गए MARS का full form है – Mutual Funds Automated Re-balancing System

ये रिसच टीम मार्स के तहत किए गए निवेश यानी एसेट एलोकेशन का कुशलता पूर्वक प्र‍बंधन करती है ताकि निवेशक को अधिकतम लाभ मिल सके।

इस प्रबंधन के तहत शेयर मार्केट में गिरावट के वक्‍त एक्विटी में एक्‍सपोजर ज्‍यादा रखा जाता है, जबकि उठान के समय एक्विटी एक्‍सपोजर को कम किया जाता है। चतुराई के साथ बनाई रणनीतियों का इस्‍तेमाल कर पोर्टफोलियो को ज्‍यादा गिरावट से बचाया जाता है।

साथ ही चढ़ते मार्केट में अधिकतम रिटर्न हासिल किया जाता है। इसके अलावा एनजे रिसर्च टीम के ओर से चुने गए बेहद उम्‍दा प्रदर्शन करने वाले फंड्स में आपके पैसों का निेवेश किया जाता है।

यदि पोर्टफोलियो में शामिल कोई फंड खराब प्रदर्शन कर रहा हो तो सालाना रिव्‍यू के दौरान उस फंड को बाहर कर अन्‍य फंड को जगह दी जाती है।

ये भी पढ़ें- best Best Large Cap Funds कैसे चुनें, इनमें कैसे करें निवेश ?

MARS or NJ MARS की क्‍या हैं विशेषताएं ?

  • मार्स ने निवेशकों की जरूरतों और उनके जोखिम लेने के स्‍तर पर गहराई से अध्‍ययन करते हुए इनकी पहचान की है। इसलिए निवेशकों के लिए इन्‍वेस्‍टमेंट्स के अलग-अलग पोर्टफोलियो तैयार किए गए हैं।
  • इन पोर्टफो‍लियोज को नियमित अंतराल पर रिबैलेंस किया जाता है। ताकि अ‍धिकतम रिटर्न हासिल किया जा सके।

NJ MARS में दो तरीके से निवेश किया जाता हैं-

1-Dynamic Asset Allocation (DAA)

2-Fixed Asset Allocation (FAA)

Dynamic Asset Allocation (DAA) क्‍या होता है?

इस तरह के पोर्टफोलियो में मार्केट के अुनसार एक्विटी और डेट दोनों तरह के एसेट्स को शामिल किया जाता है। जब एक्विटी मार्केट सस्‍ता होता है तो पोर्टफोलियो में एक्विटी का अनुपात अधिक रखा
जाता है।

मार्केट में वेल्‍यूएशन महंगा होने पर एक्विटी की बजाय डेट में एसेट्स का अनुपात अधिक रखा जाता है।

आगे Dynamic Asset Allocation (DAA) को तीन फोर्टफोलियो में बांटा गया हैं-

(i) Aggressive- इस पोर्टफोलियो में 100 प्रतिशत यानी पूरा का पूरा निवेश एक्विटी में किया जाता है।

(ii) Moderate- इस पोर्टफोलियो में 60 प्रतिशत तक एक्विटी रखी जाती है। बाकी 40 प्रतिशत पैसा डेट जैसे सुरक्षित साधनों में लगाया जाता है।

(iii) Conservative- इसमें महज 30 प्रतिशत हिस्‍सा एक्विटी में और बाकी 70 फीसदी पैसा डेट में निवेश किया जाता है।

Portfolio Name Equity Allocation Range Debt Allocation Range
DAA – Aggressive 0% – 100% 0% – 100%
DAA – Moderate 0% – 60% 40% – 100%
DAA – Conservative 0% – 30% 70% – 100%

ये भी पढ़ें- Fixed Deposit का ब्याज नहीं रहा आकर्षक, ये हैं निवेश के 7 बेहतरीन विकल्प

Fixed Asset Allocation (FAA) क्‍या होता है?

MARS के तहत Fixed Asset Allocation की सुविधा भी निवेशकों को दी गई है। इनमें 10 तरह के मॉडल पोर्टफोलियो बनाए गए हैं, जिनमें निवेश को एक्विटी और डेट फंड में अलग-अलग तय अनुपात में रखा गया हैं।

इन पोर्टफोलियो को निवेशकों की उम्र, उनकी जरूरतों और जोखिम क्षमताओं को ध्‍यान में रखकर रचा गया है। ताकि निवेशक अपने लिए उपयुक्‍त पोर्टफोलियो चुन सकें।

उदाहरण के लिए E 70 के पोर्टफोलियो में 70% Equity और 30% Debt में निवेश होता है।

Portfolio Name Equity Allocation Debt Allocation
FAA – E10 10% 90%
FAA – E20 20% 80%
FAA – E30 30% 70%
FAA – E40 40% 60%
FAA – E50 50% 50%
FAA – E60 60% 40%
FAA – E70 70% 30%
FAA – E80 80% 20%
FAA – E90 90% 10%
FAA – E100 100% 0%

Portfolio Rebalancing क्‍या होती है और कैसे की जाती है ?

NJ MARS :  Mutual Funds Automated Re-balancing System जैसे की नाम से पता चलता है कि इसमें म्‍युचुअल फंड्स की रीबैलेंसिंग की जाती है। एनजे की अनुभवी रिसर्च टीम Dynamic Asset Allocation (DAA) वाले पोर्टफोलियोज की साल में दो बार मार्च और सितंबर में रिव्‍यू करते हैं।

उस वक्‍त पोर्टफोलियोज में एक्विटी और डेट के वैटेज को बरकरार रखते हुए म्‍युचुअल फंड्स यूनिट्स को खरीदा और बेचा जाता है ताकि पोर्टफोलियो में एक्विटी और डेट का अनुपात मॉडल पोर्टफोलियो के अनुरूप सही रहे। इस तरह पोर्टफोलियो रीबैलेंस किया जाता है।

वहीं, Fixed Asset Allocation (FAA) वाले मॉडल पोर्टफोलियोज को साल में एक बार रीबैलेंस किया जाता है। ताकि ओरिजिनल पोर्टफोलियो की खूबियां बनी रहें।

उदाहरण के लिए मार्च में E 60 पोर्टफोलियो में एक्विटी का अनुपात 70 प्रतिशत हो जाता है तब सिस्‍टम के तहत 10 प्रतिशत यूनिट्स बेचे जाएंगे ताकि पोर्टफालियो 60 प्रतिशत एक्विटी के ओरजिनिल प्रारूप में बना रहे।

आपको MARS में INVEST क्‍यों करना चाहिए?

Complete Investment solution –

MARS निवेशकों को Complete Investment solution प्रदान करता है। MARS में निवेशकों को diversified portfolios की बड़ी रेंज मिल जाती है जिनमें से किसी एक पोर्टफोलियो में निवेश का फैसला करना काफी आसान हो जाता है।

Superior Scheme selection –

हर निवेशक के लिए संभव नहीं है कि वह हर समय बेस्‍ट म्‍युचुअल फंड्स की स्‍कीम्स में निवेशित रह सके। इसी चीज को ध्‍यान में रखकर एनजे की अनुभवी रिसर्च टीम सभी पोर्टफोलियो का गठन कर उनकी लगातार निगरानी करती है।

इस तरह से निवेशकों की गाढ़ी कमाई के पैसे रिसर्च के आधार पर चुने गए बेस्‍ट म्‍युचुअल फंड्स स्‍कीम्‍स में निवेशित रहते हैं। इसके लिए निवेशकों को कुछ नहीं करना होता।

Behavioural Biases का खात्‍मा –

निवेशकों की आम साइकोलॉजी होती है कि मार्केट के उतार-चढ़ाव में उन पर इमोशन्‍स हावी हो जाते हैं। इसलिए निवेशकों के निवेश के बारे में लिए गए फैसलों के गलत होने का जोखिम हमेशा बना रहता है।

आमतौर पर देखा जाता है कि निवेशक शेयर मार्केट की बड़ी गिरावट देखकर घबरा जाते हैं और घाटे में अपने फंड्स बेचने लगते हैं।

वहीं, सेंसेक्‍स के चढ़ने पर निवेशक पैसा लगाने की दौड़ में शामिल हो जाते हैं। बाद में इनके यही फैसले जब गलत साबित होते हैं तो इनके सामने पछताने के अलावा कोई चारा नहीं बचता।

एनजे मार्स के पोर्टफोलियो में किया गया निवेश इन्‍वेस्‍टर्स को इन तरह की गलतियों से होने वाले नुकसान से बचाने का काम भी करता है।

आइए, एनजे मार्स की इस खूबी को एक उदाहरण से समझने की कोशिश करते हैं।

2007-08 में तेजी की चाल से भरे शेयर मार्केट में ऊंचे दामों में निवेश किया।

2008 में जब मार्केट में तेज गिरावट आई तो निवेशकों ने आनन-फानन में कम दामों पर शेयर्स बेचकर तगड़ा घाटा उठाया।

चूंकि खरीदने और बेचने के फैसले भावनाओं के वशीभूत होकर लिये गए थे, ना कि तार्किक आधार पर। इसीलिए निवेशकों को दोनों ही सूरतों में बड़ा घाटा सहना पड़ा।

वहीं, मार्स पोर्टफोलियो में निवेश प्रक्रिया पर सिस्‍टम के जरिए निगरानी रखी जाती है। निवेशकों का पैसा म्‍युचुअल फंड की उन स्‍कीम्‍स में लगाया जाता हैं जिनके फंडामेंटल्‍स बेहद मजबूत होते हैं।

अगर किन्‍हीं वजहों से फंड परफॉर्म नहीं कर पा रहे हो तो उनकी जगह नए फंड को पोर्टफोलियो में शामिल कर लिया जाता है।

NJ MARS ने सभी पोर्टफोलियो में शानदार रिटर्न द‍िए हैं। Return और  Performance Report देखने के लिए यहां CLICK करें।

ये भी पढ़ें- Elss Mutual funds में निवेश करें, टैक्स से बचाएं पैसों से कमाये मोटा रिटर्न

NJ MARS में इन्‍वेस्‍टमेंट कैसे करें?

NJ MARS में निवेश करने के लिए आपके पास NJ E-Wealth Account का होना बहुत जरूरी है।

NJ E-Wealth Account अकाउंट खोलने के बाद ही आप मॉडल पोर्टफोलियो में निवेश कर सकेंगे।

कौन सा मॉडल पोर्टफोलियो आपके लिए बेहतर है, इसका फैसला आप NJ Partner की मदद लेकर कर सकते हैं।

नयेे निवेशक NJ E-Wealth Account में लॉगिन कर निवेश कर सकता है। पुरानेे क्‍लाइंट अपने पहले से चल रहे निवेश का हिस्‍सा NJ MARS में ट्रांसफर कर सकते हैं।

कश्‍त यानी Lumpsum investment के लिए निवेश की न्‍यूनतम धनराशि एक लाख रुपये है।

NJ MARS में मंथली एसआईपी यानी सिस्‍टेमैटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान के जरिए भी निवेश किया जा सकता है। एसआईपी के लिए मार्स में  4  माॅॅॅॅडल पोर्टफोलियो हैं-

  • NJ MARS SIP Aggressive Portfolio

म्‍युचुअल फंड निवेश में आक्रामक रणनीति के साथ इस पोर्टफोलियो  को बनाया गया है। पोर्टफोलिया में मिडकैप और स्‍माल कैप म्‍युचुअल फंड स्‍कीम्‍स को रखा गया है। चूंकि इनमें जोखिम थोड़ा अधिक रहता है इसलिए रिटर्न भी तगड़ा मिलता है।

डायविर्सिफि‍केशन, कॉस्‍ट एवरेजिंग, कंपा‍उडिंग और अनुभवी फंड मैनेजर की कुशलता का इस्‍तेमाल कर पोर्टफोलियो के रिस्‍क को कम किया जाता है।

यही नहीं, 5 साल में एक बार पोर्टफोलियो रीबैलेंसिंग की जाती है। कमजोर और खराब प्रदर्शन करने वाली स्‍कीम्‍स को बाहर का रास्‍ता दिखाकर अच्‍छा प्रदर्शन करने वाले फंड को पोर्टफोलियो में जगह दी जाती है।

  • NJ MARS SIP Balanced Portfolio

पोर्टफोलियो में बेहतरीन डायविर्सिफिकेशन वाले‍ 5 टॉप बैलेंस्ड फंड्स को शामिल किया जाता हैं। सालाना आधार पर पोर्टफोलियो को रिव्‍यू किया जाता है और खराब फंड की जगह शानदार फंड को जगह दी जाती है।

SIP के इन दोनों पोर्टफोलियो में न्‍यूनतम 5 हजार रुपये मासिक की एसआईपी से निवेश किया जा सकता है।

  • NJ MARS SIP Diversified Portfolios

इस Diversified Portfolios  में लार्ज कैप, मिडकैप और स्‍माल कैप फंड्स को रखा जाता हैं। इसे हम E100 portfolio की नकल भी मान सकते हैं। चूं‍कि पोर्टफोलियो में डायवर्सिफीकेशन का तत्‍व प्रमुखता से होता है इसलिए‍ इसमें SIP aggressive portfolio की तुलना में कम-उतार चढ़ाव होता है।

  • NJ MARS ELSS Portfolio

MARS ELSS portfolio सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करने वाली टॉप ELSS schemes से बना होता है।  चूंकि ईएलएसएस स्‍कीम में निवेशित धनराशि का लॉकइन पीरियड 3 साल होता है, इसलिए इस पोर्टफोलियो में रीबैलेंसिंग नहीं की जाती।

ऐसे में निवेशकों को सलाह दी जाती है कि या तो वे 3 साल बाद भी अपने पुराने पोर्टफोलियो में बने रह सकते हैं अथवा अपने निवेश को नयी स्‍कीम्‍स में स्‍वीच कर लें। एनजे की ओर से हर साल नये ईएलएसएस पोर्टफोलियो की घोषणा की जाती है।

ये भी पढ़ें- SIP vs PPF : कौन सा निवेश आपको बनाएगा करोड़पति ?

जरूरी बात

NJ MARS की इतनी खूबियां जानने के बाद आप इनमें से किसी न किसी मॉडल पोर्टफोलियो में निवेश जरूर करना चाहेंगे।

बता दें कि अगर आप अगर म्‍युचुअल फंड में नि‍वेश के इच्‍छुक हैं तो ऑनलाइन निवेश के लिए आपको डीमैट अकाउंट खोलना होगा। इसके लिए NJ India Invest Ltd में E Wealth Account  पर जाकर रजिस्‍ट्रेशन करें।

वेबसाइट के Main Menu में NJ E-WEALTH A/C का Tab दिया गया है। यहां आप अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि लिखकर अपना केवाईसी प्रोसेस पूरा करें।

आपके ईमेल पर अकाउंट का कन्‍फर्मेशन आते ही आप निवेश के लिए तैयार हो जाएंगे। ब्‍लॉगर स्‍वयं NJ India Invest Ltd  में अधिकृत NJ Partner है। इसलिए  किसी तरह की असुविधा होने पर आप 7860678995 पर WHATSAPP संपर्क कर सकते हैं। इस पर आपको आजीवन फ्री सलाह दी जाएगी।

अगर आपको हमारा ये लेख “ NJ MARS में इन्‍वेस्‍टमेंट बोले तो रिस्क में सबसे कम, रिटर्न में सबसे आगे ” पसंद आया हो तो कमेंट बॉक्‍स में कमेंट करें। साथ ही हमारे फेसबुक पेज पर जाकर लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

[td_block_social_counter facebook="tagdiv" twitter="tagdivofficial" youtube="tagdiv" style="style8 td-social-boxed td-social-font-icons" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjM4IiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMzAiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" custom_title="Stay Connected" block_template_id="td_block_template_8" f_header_font_family="712" f_header_font_transform="uppercase" f_header_font_weight="500" f_header_font_size="17" border_color="#dd3333"]

Latest Articles

Translate »